किसान क्रेडिट कार्ड योजना

FEATURES

प्रमुख विशेषताएं और फायदें :

  • केसीसी खाते में जमा शेष पर बचत बैंक दर से ब्याज प्राप्त करें

  • सभी केसीसी ऋणियों के लिए फ्री एटीएम-सह-डेबिट कार्ड (स्टेट बैंक किसान कार्ड)

  • रु.3 लाख तक की ऋण राशि के लिए 2% वार्षिक दर से ब्याज सहायता उपलब्ध

  • शीघ्रता से ऋण चुकाने पर 3% वार्षिक दर से अतिरिक्त ब्याज सहायता

  • सभी केसीसी ऋणों के लिए फसल बीमा के अंतर्गत अधिसूचित फसलों/अधिसूचित क्षेत्रों को शामिल किया गया है।

पात्रता :

  • सभी किसान – व्यक्तिगत/संयुक्त खेतिहर स्वामी

  • काश्तकार किसान, मौखिक पट्टाधारीऔर बंटाई के आधार पर फसल उगाने वाले आदि

  • स्वयं सहायता समूह या काश्तकार किसानों सहित संयुक्त देयता वाले समूह

ऋण की राशि :

  • 1 वर्ष के लिए ऋण की राशि का निर्धारण फसल की लागत, फसल उगाने के बाद के खर्च और खेती रखरखाव लागत के आधार पर किया जाएगा।

  • अगले 5 वर्ष के लिए वित्त की राशि में वृद्धि के आधार परऋण संस्वीकृत किया जाएगा।

कॉलैटरल प्रतिभूति :

  • रु. 1 लाख तक की केसीसी ऋण-सीमा के लिए कॉलैटरल प्रतिभूति की छूट दी गई है।

  • कॉलैटरल प्रतिभूति आवश्यकता निर्धारित करने के प्रयोजन हेतु संस्वीकृत केसीसी ऋण-सीमा पर विचार किया जाएगा।

ब्याज की दर :

  • एक वर्ष के लिए या चुकौती की देय तिथि तक, जो भी पहले हो, 7% वार्षिक दर साधारण ब्याज वसूल किया जाएगा।

  • देय तिथियों के अंदर चुकौती नहीं करने के मामले में, कार्ड दर से ब्याज लागू किया जाएगा।

  • देय तिथि के बाद छमाही अंतराल पर चक्रवृद्धि ब्याज लगाया जाएगा।

चुकौती :

जिन फसलों के लिए ऋण संस्वीकृत किया गया है, उनकी अपेक्षित हार्वेस्टिंग एवं मार्केटिंग अवधि के अनुसार चुकौती अवधि निर्धारित की जा सकती है।

आवश्यक दस्तावेज :

  • विधिवत रूप से भरा हुआ आवेदन फॉर्म

  • पहचान प्रमाण – मतदाता पहचान कार्ड/पैन कार्ड/पासपोर्ट/आधार कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस आदि

  • पता प्रमाण : मतदाता पहचान कार्ड/पासपोर्ट/आधार कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस आदि

आवेदन कैसे करें

आवेदन फॉर्म और अन्य जानकारी के लिए कृषि कार्य करने वाली अपनी निकटतम एसबीआई शाखा से संपर्क करें।